NRC Uttar Pradesh 1971 Voter List Search Online (By Name, Land Record, Village, District, Block, Ward)

nrc uttar pradesh 1971 voter list
बिना श्रेणी

UP Voter List Search Online: Uttar Pradesh 1971 Election List Search Online is only available on the official Election Commission Website of Uttar Pradesh State. At present, there is no official announcement that the 1971 or 2003 Electoral/ Election Sheet will be asked.

In the year 1971, the Indian 5th general election was conducted. The Voter List was prepared all over the Uttar Pradesh District, Village, Block Level. The name of person in the Voter List in UP 1971 Election is regarded as a Legacy Data (Information Pending). You have to link to that Person (Either Father, Grandfather, Great Grandfather, Monther, Grandmother etc.) in the Legacy Data for the NRC Validation.

उत्तर प्रदेश NRC  1971 की वोटर लिस्ट मैं अपना नाम खोजने के लिए आपको सबसे पहले www.upnrc.nic.in पर जाकर के Search करना होगा| हम आपको यह भी बता दें की  वर्ष 1971 आसाम राज्य के लिए ही किया गया था| जहां तक कि उत्तर प्रदेश राज्य का सवाल है तो यह वर्ष बदल सकता है|

वर्ष 1951 में सबसे पहला और आखरी राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर बनाया गया था इसके बाद में कभी भी एनआरसी नहीं हुई है केवल आसाम राज्य में ही वर्ष 2019 में एनआरसी का कार्यक्रम खत्म हुआ है| जैसा कि आपको यह पता है कि भारत सरकार ने नया नागरिक संशोधन कानून लागू कर दिया है जिसको की CAA भी बोलते हैं|

एनआरसी और CAA बिल्कुल अलग है और इनका आपस में कोई भी जुड़ाव नहीं है क्योंकि नया नागरिक कानून के तहत 31 दिसंबर 2014 से पहले आए हुए धार्मिक प्रताड़ना नागरिक जोकि पाकिस्तान अफगानिस्तान एवं बांग्लादेश के मूल नागरिक भारत में आ गए हैं उनको नागरिकता देने का कार्यक्रम है| जहां पर एनआरसी केवल भारत के नागरिकों का ही बनता है|

भारत में बहुत सारा घुसपैठियों का खबर आने लग गया था तब सुप्रीम कोर्ट और सरकार ने सिटीजन अमेंडमेंट 2003 में किया जिसके तहत 1955 में जो सिटिजन बिल में यह बदलाव किए गए थे:

  1. 1950 से 1987 के बीच में जिसने भी जन्म लिया हो भारत के अंदर वह भारत का नागरिक है|
  2. 1987 से 2003 के बीच में जिसने भी जन्म लिया है और उसका कोई एक पैरंट ( यानी कि माता या पिता) कोई भी एक भारतीय होना जरूरी है तभी वह भारत का नागरिक माना जाएगा|
  3. 2004 के बाद में जन्म लेने वाले के माता या पिता कोई भी एक भारतीय नागरिक हो एवं दूसरा घुसपैठ ना हो ( यानी कि इलीगल माइग्रेंट्स) नहीं होना चाहिए|

यह तीन बदलाव 2003 सिटीजन अमेंडमेंट बिल में किए गए थे जो कि तबके भारतीय जनता पार्टी के प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई की सरकार थी|

2019 के नए सिटीजन अमेंडमेंट के तहत NRC 2020/ 2021  की जाएगी

  उत्तर प्रदेश एनआरसी 1971 की लिस्ट

वर्ष 1971 के अनुसार UP Voter List बनाई गई थी इसकी पूरी जानकारी यूपी की एनआरसी की वेबसाइट पर आप देख सकते हैं जहां पर भी आपको अपने माता पिता, दादा दादी, परदादा परदादी के नाम होंगे और आप लिगसी डाटा के अंतर्गत अपना संबंध दिखा पाएंगे| यह एक महत्वपूर्ण दस्तावेज है जिसके तहत आपको ऑनलाइन आवेदन करने में बिल्कुल भी दिक्कत नहीं आएगी| क्योंकि लीगेसी डाटा (NRC Legacy Data) मैं अपना संबंध स्थापित करना अनिवार्य है|

UP 1971 चुनाव लिस्ट

Uttar Pradesh 1971 Legacy Data: In 1971 में लोकसभा चुनाव हुए थे इसके अंदर सभी राज्य चुनाव में मतदाता लिस्ट बनाई गई थी| राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर में यह लिस्ट मान्य है और लीगेसी डाटा के लिए जरूरी है| 24 मार्च 1971  के रात्रि 12:00 बजे से पहले का कोई भी सरकारी फोटो आईडी, या कोई आईडी या फिर दाता सूची में यदि आपका नाम लिगसी डाटा के तौर पर उपयोग हो सकता है|

 उत्तर प्रदेश एनआरसी की लिस्ट खोजने के तरीके नीचे दिए गए हैं:

आप यदि 2020 का एनआरसी लिस्ट यदि डाउनलोड करना चाहते हैं तो वह आपको अभी नहीं मिल पाएगा क्योंकि एनआरसी UP 2020 की लिस्ट तभी जारी की जाएगी जब सरकार के पास में नए सदस्यों/ बिहार के नागरिकों की जानकारी/ डाटा ऑनलाइन पोर्टल पर डाल दिया जाएगा|

वर्ष 1971 एनआरसी लिस्ट देखने के लिए आपको UP एनआरसी डॉट nic.in वेबसाइट पर जाकर के “ लीगेसी डाटा सर्च” पर क्लिक कर देख सकते हैं|

  1. Go to the official website of UP NRC
  2. Go to the Legacy Data section
  3. Search in the Voter List
  4. Enter Name & Search
  5. Check via Village/ Ward/ Block or District Wise.

यहां पर आपको अपना जिला चुनना होगा उसके बाद में अपना गांव चुनना होगा| अब आप उसमें अपने माता पिता, दादा दादी, परदादा परदादी में से किसी एक का भी नाम सर्च कर सकते हैं|

  • यह ध्यान रखें की 1971 में उनकी उम्र 18 वर्ष से ऊपर हो तभी वह वोटिंग लिस्ट में उनका नाम होगा|
  • यदि आप नाम सर्च कर नहीं पा रहे हैं तो आप नजदीकी एनआरसी सेवा केंद्र में जा सकते हैं या फिर ऑनलाइन कस्टमर केयर/ ग्राहक सेवा केंद्र पर कॉल कर सकते हैं|

एनआरसी लिस्ट जारी करने के बाद में ही आप लीगेसी डाटा सर्च कर सकते हैं| यह लिगसी डाटा अभी ऑफलाइन माध्यम से रखा गया है लेकिन आने वाले कुछ महीने में इन सभी लिगसी डाटा/ एनआरसी लिस्ट को ऑनलाइन डिजिटल माध्यम से वेबसाइट पर डाल दिया जाएगा और आप अपने पूर्वजों का नाम देख पाएंगे||

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *